05 कथित नक्सलियों की गिरफ्तारी को ग्रामीणों ने बताया फर्जी, विधायक विक्रम मंडावी से मिलकर रिहाई की रखी मांग

एक स्थाई वारंटी सहित 06 नक्सली हुए थे गिरफ्तार

बीजापुर। जिले के गंगालुर थाना अंतर्गत ग्राम पीड़िया के गोटपल्ली के जंगलों में नक्सलियों से मुठभेड़ के बाद विस्फोटक सहित 05 गिरफ्तार नक्सलियों के परिजनोंने आरोप लगाया है कि सुरक्षाबल के जवानों ने निर्दोष ग्रामीणों के साथ मारपीट करते हुए गिरफ्तार किया है। ग्रामीणों ने जवानों पर 15000 रुपये लेने काआरोप भी लगाया है। इस संबंध में बड़ी संख्या में ग्रामीण जिला मुख्यालय बीजापुर पहुंचकर विधायक विक्रम मंडावी से मिलकर निर्दोष ग्रामीणों को नक्सली बताकर गिरफ्तार करने की शिकायत करते हुए रिहाई की मांग कीहै। ग्रामीण सोरी धन्ना ने बताया कि उक्त 05 ग्रामीण नदी में नहाने गये थे, वहां से फोर्स के जवानों ने गिरफ्तार किया। इस संबंध में विधायक विक्रम मंडावी ने कहा कि ग्रामीणों की शिकायत के बाद एसपी बीजापुर से चर्चाकिया गया है। एसपी ने मामले की जांच की बात कही है। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार बनने के बाद कोशिश कर रहे हैं कि निर्दोष आदिवासी जेल न जायें।

उल्लेखनीय है कि सोमवार को जिले से गंगालुरथाना अंतर्गत ग्राम पीडिय़ा के गोटपल्ली में जवानों के पंहुचते ही नक्सलियों द्वारापुलिस टीम पर घात लगाकर हमला किया गया। पुलिस टीम द्वारा सुरक्षित आड़लेकर जवाबी कार्यवाही की गई। घटनास्थल पर घेराबंदी कर मौके सेविस्फोटक, नक्सल सामग्री सहित 05 नक्सलियों को पकड़ा गया। पकड़े गए नक्सलियोंमें भीमा लेकाम, राजू ओयाम, भीमा बाड़से, सोमलू ओयाम, शांति कलमू शामिल है।इनके कब्जे से पीटठू, कार्डेक्स वायर, बिजली का वायर, डेटोनेटर, नक्सलीसाहित्य, नक्सली वर्दी, पटाका, एसएलआर के खाली खोखा बरामद किया गया। वहीं पालनार से नक्सली अपराध के फरार स्थाई वारंटी सोनू ताती पालनार मातापाराको पकड़ा गया। गिरफ्तार नक्सलियों को न्यायालय में पेश किया गया।

राकेश पांडे

————–

Dinesh KG (EDITOR)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *