सिटी बस सेवा का संचालन बंद होने से ग्रामीण परेशान, शहर तक आने के लिए ज्यादा किराया देने को मजबूर हुई जनता – बाफना

जगदलपुर। जगदलपुर विधानसभा के पूर्व विधायक संतोष बाफना ने एक बार पुनः जनहित से जुड़ी समस्या से जिलाधीश को पत्र लिखकर बस्तर जिला मुख्यालय जगदलपुर के आस-पास के ग्रामीण क्षेत्रों के लिए करोड़ों रूपये के बजट से संचालित की गई किफायती सिटी बस सेवा का संचालन बंद किये जाने से ग्रामीणों को हो रही परेशानी को लेकर जिला प्रशासन का ध्यान संबंधित विषय पर केन्द्रित कराने का प्रयास करते हुए लिखा है कि, आम जनता को सबसे सस्ती परिवहन सेवा की सौगात देते हुए भाजपा शासनकाल के दौरान प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री डाॅ. रमन सिंह की सरकार ने सिटी बस सेवा का शुभारंभ बस्तर जिला मुख्यालय जगदलपुर में किया था।

जगदलपुर मुख्यालय से लगे हुए ग्रामीण क्षेत्र जिसमें नानगुर, नगरनार, दरभा, बकावण्ड या फिर चित्रकोट क्षेत्र से आने वाले रहवासी जो अपने किसी भी कार्य के लिए पूर्णतः शहर मुख्यालय जगदलपुर पर ही निर्भर हैं क्योंकि आसपास क्षेत्र का सबसे बड़ा बाज़ार भी जगदलपुर में ही है। इसके अलावा सारे शासकीय कार्यालयों के साथ ही जिला कार्यालय भी जगदलपुर में ही स्थित हैं।

श्री बाफना ने अपने पत्र में आगे लिखा है कि, ग्रामीणों की इन्हीं आवश्यकताओं को देखते हुए ही क्षेत्र के रहवासियों को राहत देने के लिए सिटी बस का संचालन ग्रामीण क्षेत्रों में किया गया था। ग्रामीण क्षेत्र के रहवासियों को अपनी दैनिक जरूरतों को पूरा करने के लिए या छोटे मोटे व्यापार के लिए भी एवं आयदिन किसी न किसी शासकीय कार्य के लिए जगदलपुर शहर ही आना पड़ता है। पूर्व भाजपा शासनकाल के दौरान सस्ती परिवहन सेवा मिलने से इन क्षेत्रों से आने वाले रहवासियों को जगदलपुर तक सिटी बस से आने जाने में काफी राहत मिल रही थी, किराया भी कम लगता था।

भाजपा शासनकाल के दौरान जिला प्रशासन की देखरेख में प्रारंभ की गई सिटी बस सेवा आज की तारीख में पूरी तरह से ठप हो चुकी है। जिसका परिणाम यह है कि, ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को अब जगदलपुर आने जाने के लिए सिटी बस के अभाव में टेम्पो, आॅटो व फिर अन्य किसी वाहन का इस्तेमाल कर ज्यादा रूपए खर्च करके आना जाना पड़ रहा है। गत् कई महीनों से सिटी बस का संचालन बिना किसी सूचना के ही बंद किया जा चुका है।

पूर्व विधायक श्री संतोष बाफना ने जिला प्रशासन की कार्यशैली पर सवाल उठाते हुए जिलाधीश महोदय को प्रेषित पत्र में आगे कहा गया है कि, जिला प्रशासन की इस प्रकार की कार्यशैली से यह सवाल उत्पन्न हो रहा है कि, जिस मकसद से शासन द्वारा लाखों रूपये खर्च कर सिटी बस सेवा की शुरूआत लोगों को राहत देने के लिए हुई थी, अब क्यों उन बसों का इस्तेमाल आज जनहित में नहीं किया जा रहा है।

पत्र के अंत में पूर्व विधायक ने जिलाधीश महोदय से निवेदन किया है कि, पूर्व भाजपा शासन द्वारा प्रारंभ की गई सस्ती परिवहन सेवा जो कि अब प्रशासनिक अनदेखी की वजह से दम तोड़ चुकी है कृपया ग्रामीण क्षेत्र के रहवासियों को राहत देने हेतु जिला प्रशासन की निगरानी में ही सही पुनः सिटी बस संचालित किए जाने हेतु आवश्यक कार्यवाही करने का कष्ट करें। ताकि जगदलपुर क्षेत्र से लगे हुए अन्य ग्रामीण क्षेत्र के रहवासियों को प्रशासन की ओर से राहत मिल सके।

Dinesh KG (EDITOR)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *